March 23, 2019

वाराणसी के लिए चल पड़ी वंदे भारत एक्सप्रेस, टिकट बुक कराएं

नई दिल्ली से वाराणसी के बीच चलेगी वंदे भारत एक्सप्रेस

नई दिल्ली से वाराणसी का किराया 1850 रुपए से 3520 रुपए तक

पीएम मोदी ने नई दिल्ली से हरी झंडी दिखा ट्रेन को रवाना किया

Buddhadarshan News, Varanasi

वंदे भारत एक्सप्रेस में यात्री 17 फरवरी से टिकट बुक कराएं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को नई दिल्ली स्टेशन ट्रेन को हरी झंडी दिखा रवाना किया। मेक इन इंडिया के तहत देश की यह पहली आधुनिक सेमी हाई स्पीड ट्रेन है। यह ट्रेन नई दिल्ली से वाराणसी के बीच चलेगी। यात्री 17 फरवरी या इसके बाद की यात्रा के लिए  irctc.co.in से ऑनलाइन टिकट बुक करा सकते हैं।

कानपुर, प्रयागराज होते हुए वाराणसी:

यह ट्रेन नई दिल्ली से कानपुर, प्रयागराज होते हुए वाराणसी पहुंचेगी। ट्रेन में एयरकंडिशन चेयर कार एवं एग्जीक्यूटिव क्लास के तहत किराए का निर्धारण किया गया है।

अयोध्या के प्रमुख दर्शनीय स्थल रामजन्मभूमि, हनुमान गढ़ी, कनक भवन

ट्रेन का दो स्तरीय किराया:

ट्रेन में यात्रा के लिए दो क्लास निर्धारित किए गए हैं। एयरकंडिशन चेयर कार और एग्जीक्यूटिव क्लास।

राम, बुद्ध, जैन धर्म का संगम है अयोध्या

किराया सूची:

दिल्ली से वाराणसी – 755 किमी  – 1850 रुपए- 3520 रुपए

दिल्ली से कानपुर – 447 किमी – 1150 रुपए- 2245 रुपए

दिल्ली से प्रयागराज– 642 किमी- 1480 रुपए- 2835 रुपए

कानपुर से प्रयागराज-195 किमी- 630 रुपए- 1245 रुपए

कानपुर से वाराणसी– 319 किमी- 1065 रुपए- 1925 रुपए

भोजन के लिए अलग से पेमेंट:

इस ट्रेन में ट्रैवेल के दौरान भोजन के लिए अलग से पेमेंट करना होगा। नई दिल्ली से वाराणसी की यात्रा के दौरान एग्जीक्यूटिव श्रेणी में सुबह की चाय, नाश्ते और लंच के लिए 399 रुपए देने होंगे। जबकि चेयर कार के यात्रियों को 344 रुपए देने होंगे।

पर्यटन उद्योग को मिलेगा बढ़ावा:

अपना दल (एस) के जिलाध्यक्ष अजीत पटेल कहते हैं, “वाराणसी आने वाले देश-विदेश के पर्यटकों के लिए यह ट्रेन काफी आकर्षित करेगी। यह ट्रेन न्यू इंडिया के सपने को साकार करती है। आवागमन बेहतर होने से वाराणसी में पर्यटन उद्योग में तेजी आएगी। यहां बाबा विश्वनाथ का प्रसिद्ध मंदिर एवं सारनाथ में भगवान बुद्ध का प्रथम उपदेश स्थल है। ”

श्रवण धाम कैसे जाएं। बस, ट्रेन, टैक्सी या फ्लाइट

ट्रेन में विश्वस्तरीय सुविधाएं:

वंदे भारत एक्सप्रेस (T-18) के सभी डिब्बों में विश्वस्तरीय सुविधाएं उपलब्ध हैं। ट्रेन के सभी कोच मेट्रो ट्रेन की तर्ज पर आपस में सील हैं। ऐसी स्थिति में ट्रेन में बाहरी हवा प्रवेश नहीं कर सकती है। इससे एसी कूलिंग सिस्टम ठीक से काम करेगा। इसमें 180 डिग्री रिवाल्विंग चेयर की व्यवस्था है। ट्रेन में लगी ऑटोमैटिक एलईडी लाइट्स दिन और रात की रोशनी के अनुसार कम ज्यादा रोशनी देंगी।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *