February 16, 2019

Breaking News

अयोध्या के प्रमुख दर्शनीय स्थल रामजन्मभूमि, हनुमान गढ़ी, कनक भवन

Photo Credit To Suneeta Singh

Buddhadarshan News, Ayodhya

भगवान राम की जन्मभूमि अयोध्या दुनिया की प्राचीनतम धार्मिक नगरी में से एक मानी जाती है। सरयू नदी के किनारे स्थित यह नगर दर्शनीय स्थल के तौर पर काफी संपन्न है। यहां पर भगवान राम की जन्मभूमि के अलावा मोती महल, हनुमान गढ़ी, कनक भवन, त्रेता के ठाकुर, मौसोलेउं ऑफ बहू बेगम, गुप्तार घाट, नागेश्वरनाथ मंदिर, जानकी महल, नया घाट, सीता की रसोई, दशरथ भवन, राम की पैड़ी, रामकथा पार्क, तुलसी स्मारक भवन, ऋषभदेव राजघाट उद्यान, चक्र हरजी विष्णु मंदिर, फोर्ट कोलकत्ता, तुलसी उद्यान, राजा मंदिर, मणि पर्वत, सरयू नदी, दिगंबर जैन मंदिर इत्यादि। खास बात यह है कि यहां के अधिकांश दर्शनीय स्थल शहर के आसपास ही स्थित हैं।

राम, बुद्ध, जैन धर्म का संगम है अयोध्या

अयोध्या उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से लगभग 134 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह शहर दुनिया की सबसे प्राचीन शहर वाराणसी से महज 213 किमी की दूरी पर बसी है।

आकर्षण के केंद्र:

इस प्राचीन शहर में कई मंदिर जर्जर हो गए हैं, जिनके जीर्णोद्वार की आवश्यकता है। यहां सीतारसोई और हनुमानगढ़ी मुख्य मंदिर हैं। इनके अलावा कनकभवन, नागेश्वरनाथ और दर्शनसिंह मंदिर भी 18वीं-19वीं शताब्दी में बनाए गए। यहां पर साल में तीन मेले लगते हैं। मार्च-अप्रैल, जुलाई-अगस्त और अक्टूबर-नवंबर के महीनों में। यहां माघ पूर्णिमा व कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर सरयू नदी में स्नान करने के लिए श्रद्धालुओं की भारी भीड़ लगती है।

अंबेडकर नगर के दर्शनीय स्थल

भगवान श्रीराम की जन्मभूमि के अलावा भगवान बुद्ध और जैन धर्म से भी अयोध्या का गहरा लगाव रहा है।  कहा जाता है कि भगवान बुद्ध ने अयोध्या का कई बार दौरा किया था और यहां पर अपने शिष्यों को संदेश दिया था। सातवीं शताब्दी में यहां पर चीनी यात्री ह्वेनसांग भी आया था। उसके अनुसार यहां 20 बौद्ध मंदिर और 3000 भिक्षु रहते थे। हालांकि पिछले कुछ दशकों से यह शहर राम जन्मभूमि और बाबरी मस्जिद की वजह से सुर्खियों में रही है। फिलहाल यह मामला अदालत में लंबित है।

बाराबंकी के दर्शनीय स्थल

परिवहन व्यवस्था:

यह शहर देश के सभी प्रमुख रेलवे स्टेशनों से जुड़ा हुआ है। अयोध्या से महज 7 किमी की दूरी पर जिला मुख्यालय फैजाबाद स्थित है, जहां पर इस रूट से गुजरने वाली सभी ट्रेनें रूकती हैं। इसके अलावा यह शहर देश के सबसे बड़े निर्माणाधीन पूर्वांचल एक्सप्रेस पर स्थित है। अब उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने फैजाबाद जिला का नाम बदलकर अयोध्या रख दिया है।

बलिया के दर्शनीय स्थल

इस शहर के तीन तरफ तीन एयरपोर्ट स्थित हैं। अयोध्या से 134 किमी की दूरी पर लखनऊ स्थित चौधरी चरण सिंह अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्‌डा स्थित है। इसी तरह 213 किमी दूर वाराणसी स्थित लाल बहादुर शास्त्री एयरपोर्ट और अयोध्या से 137 किमी की दूरी पर गोरखपुर स्थित महायोगी गोरखनाथ एयरपोर्ट है।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *