February 25, 2020

साल भर में 26 लाख पर्यटकों ने देखा ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’

Statue of Unity

पिछले साल पीएम मोदी ने दुनिया की सबसे ऊंची इस प्रतिमा का अनावरण किया था

Buddhadarshan News, 30 October

गुजरात में सरदार सरोवर बांध के पास केवड़िया गांव में देश के लौह पुरुष सरदार बल्लभभाई पटेल की 182 मीटर ऊंची प्रतिमा ‘स्टेच्यू ऑफ यूनिटी’ को पिछले साल भर में 26 लाख पर्यटक देख चुके हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह जानकारी देते हुए कहा है कि यह पर्यटन स्थल पूरी दुनिया में ख्याति बटोर रहा है।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले साल 31 अक्टूबर को दुनिया की सबसे ऊंची इस प्रतिमा का अनावरण किया था। गुजरात के इस नए पर्यटन स्थल पर देश-विदेश से लोग आ रहे हैं। स्टेच्यू ऑफ यूनिटी से अब राज्य सरकार का पर्यटन से आने वाला राजस्व बढ़ गया है।

Pls read it: how to reach shravan Dham, by bus, train or taxi

यहां पर्यटकों को ठहराने की व्यवस्था है। विशालतम प्रतिमा के अंदर 135 मीटर की ऊंचाई पर एक साथ 200 लोगों की क्षमता वाली दर्शकदीर्घा बनाई गई है। इस दर्शकदीर्घा से आस-पास के मनोरम और सुंदर मनोरम दृश्यों को देखा जा सकता है। हर दिन पांच हजार लोगों को ले जाने वाली दो विशाल लिफ्ट भी मौजूद हैं।

Pls read it: How to reach Varanasi, Baba Vishwanath Temple

प्रतिमा की खासियत:

प्रतिमा की कुल ऊंचाई: 182 मीटर,

केवल प्रतिमा की ऊंचाई: 157 मीटर

आधार की ऊंचाई- 25 मीटर

निर्माण अवधि: 13 महीने डिजायनिंग में और 33 महीने निर्माण में

निर्माण सामग्री: 2.1 लाख घन मीटर कंक्रीट, 6500 टन स्टील (एफिल टॉवर में 7300 टन लोहा का इस्तेमाल), प्रतिमा को सहारा देने में इस्तेमाल स्टील: 18500 टन, 1700 टन तांबे का इस्तेमाल

दर्शक दीर्घा: 135 मीटर की ऊंचाई पर 200 लोग खड़े हो सकते हैं

250 इंजीनियर और 3400 मजदूरों ने की मेहनत

लागत: 2979 करोड़ रुपए

मजबूती: 180 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से चलने वाले तूफान को झेल सकती है प्रतिमा , 6.5 तीव्रता का भूकंप का कोई असर नहीं होगा।

बाढ़ से सुरक्षा: प्रतिमा 25 मीटर ऊंचे आधार पर है। इसे 100 सालों में आई बाढ़ के मद्देनजर बनाया गया है।

दुनिया भर में निर्मित प्रतिमा की ऊंचाई:

निर्माणाधीन छत्रपति शिवाजी महाराज मेमोरियल की ऊंचाई: 212 मीटर

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी: 182 मीटर

स्प्रिंग टेंपल बुद्धा: 153 मीटर

स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी: 93 मीटर

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *