April 21, 2019

Breaking News

छोटी नदियां बचायें, तभी सुधरेगी किसान की सेहत: राजेंद्र सिंह

बुद्धदर्शन वेबसाइट की अपील , मेले में आने वाले श्रद्धालु छोटी नदियां, पोखर, तालाब बचाने का लें संकल्प

-देश की 108 नदियों का पानी एवं मिट्‌टी कुंभ मेला में इकट्‌ठा किया गया

Buddhadarshan News, Prayagraj

कुंभ मेला में आयोजित ‘छोटी नदियां बचाओ अभियान’ में शामिल रेमन मैगसेसे अवार्ड से सम्मानित जल पुरुष राजेंद्र सिंह ने कहा, ‘जब तक छोटी नदियों की सेहत में सुधार नहीं होगा तब तक न किसान की सेहत में सुधार होगा और न ही गंगा बचेगी।’ उन्होंने कहा कि गंगा और किसान को बचाने के लिए छोटी नदियों को बचाना जरूरी है। इस मौके पर ‘छोटी नदियां बचाओ अभियान’ के संयोजक ब्रिजेंद्र प्रताप सिंह भी उपस्थित थें।

तपस्वी ब्रिजेंद्र प्रताप सिंह ने कुंभ मेला में छोटी नदियों के अस्तित्व के लिए जगाया अलख

राजेंद्र सिंह ने कहा कि सरकारों को नदियों की हत्या करने वाली योजनाओं को बंद करना चाहिए। जब तक छोटी नदियां और ताल झील नहीं बचेंगे, पेड़ नहीं बचेंगे, कोई बड़ी नदी नहीं बचेगी।

प्रयागराज के प्रमुख 9 पर्यटन स्थल

स्वामी अधोक्षजानंद देवतीर्थ ने कहा कि जो राजा अपनी प्रजा की रक्षा न कर सके, उसको गंगा माफ नहीं करतीं। अभियान के राष्ट्रीय संयोजक ब्रिजेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि नदियों के संरक्षण को लेकर संगठित संघर्ष छेड़ा जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रयागराज में ससुर खदेरी, मनसैया नदी और कानपुर में पाण्डु नदी को पुनर्जीवित करने का अभियान शुरू किया जाएगा।

 Holy city of the world, Varanasi

शिविर में 108 नदियों का जल एवं मिट्‌टी:

कुंभ मेले में संगम तट पर लगाए गए इस शिविर में देश के विभिन्न हिस्सों सामाजिक कार्यकत्र्ताओं ने 108 नदियों का जल एवं मिट्‌टी इकट्‌ठा किया है।

Kumbh: देश के हर हिस्से दिल्ली, मुंबई, चेन्नई से प्रयागराज आती हैं ट्रेन

आप भी आइए और नदियों को बचाने का संकल्प लीजिए:

प्रयागराज में संगम तट पर कुंभ मेला में सेक्टर 6, अनंत माधव रोड, पीपा पुल 16 के पहले ‘छोटी नदियां बचाओ अभियान’ का शिविर लगा है। इस शिविर में आप भी आइए और अपने आसपास छोटी नदी, पोखर, तालाब के संरक्षण का संकल्प लीजिए। याद रखिए, ‘जल है तो जीवन है।’ आने वाली पीढ़ी के बेहतर भविष्य के लिए इस अभियान में अवश्य शामिल होइए।

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *