January 19, 2019

विवेकानंद मेडिकल सर्विस: टेलीमेडिसिन के जरिए जनपद में ही होगा मरीजों का इलाज

Buddhadarshan News, New Delhi

‘आप ईश्वर की खोज में कहां जाएंगे, क्या सभी निर्धन लोग, वंचित, कमजोर लोग ईश्वर नहीं हैं? क्यों नहीं हम इन्हें पहले पूजते हैं?’। स्वामी विवेकानंद ने इन्हीं विचारों को आगे बढ़ाने के लिए अपने गुरू स्वामी रामकृष्ण परमहंस के नाम पर रामकृष्ण मिशन की स्थापना की। आज यह मिशन पूर्वांचल में निर्धन मरीजों के इलाज के लिए एक मील का पत्थर साबित होने जा रहा है। बीएचयू के बाद अब रामकृष्ण मिशन सेवाश्रम ने भी पूर्वांचल के मरीजों को उनके जनपद में ही चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने की सेवा शुरू की है। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री श्रीमती अनुप्रिया पटेल ने शनिवार को रामकृष्ण मिशन द्वारा टाटा ट्रस्ट की सहायता से स्थापित वाराणसी में ‘विवेकानंद मेडिकल सर्विस’ का उद्घाटन किया। टेलीमेडिसिन सेवा के जरिए पूर्वांचल के चार जिलों में गरीब मरीजों को यह सेवा उपलब्ध करायी जाएगी।

रामकृष्ण मिशन की इस पहल की सराहना करते हुए केंद्रीय मंत्री श्रीमती पटेल ने कहा कि इस पहल से मरीजों को इलाज के लिए महानगरों की ओर जाना नहीं पड़ेगा। ऐसा होने से मरीजों को आर्थिक दबाव से काफी हद तक राहत मिलेगी।

यह भी पढ़ें:  बीएचयू -मिर्जापुर के बीच शुरू हुई टेलीमेडिसिन सेवा, केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने किया शुभारंभ    

मोबाइल वैन यूनिट होगी स्थापित:

टेलीमेडिसिन सुविधा के अलावा सेवाश्रम की ओर से तीन मोबाइल वैन यूनिट की भी शुरूआत की जाएगी। इसमें ओपीडी से लेकर पैथोलॉजी जांच और फार्मेसी की भी सुविधा होगी।

1 मई से शुरू होंगी पूरी सेवाएं:

आगामी 15 अप्रैल से दो टेलीमेडिसिन यूनिट शुरू हो जाएंगी और सभी सेवाएं आगामी 1 मई से शुरू होंगी। इस मौके पर टाटा ट्रस्ट के हरीश कृष्ण स्वामी और मिशन के उपाध्यक्ष स्वामी सुहीतानंद महाराज भी उपस्थित थें।

यह भी पढ़ें :   Ayodhya:दिल्ली से अयोध्या जाने वाली प्रमुख ट्रेन

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *